Yoast Like Plugin Or Alternative For Blogger



जैसे वर्डप्रेस के लिए Yoast plugin है क्या इसी तरह कोई आप्शन blogger के लिए avaliable है क्या? एसा सवाल सभी ब्लॉगर के मन में आता है.

Yoast alternative for blogger


मेरे भी मन में सवाल आया और मैंने इन्टरनेट पर search किया लेकिन ब्लॉगर के लिए एसा कोई टूल, plugin, avaliable नहीं है. लेकिन मैंने कुछ टूल्स, और साइट्स के बारे में आपको बताऊंगा जो yoast के जैसे सेम तो नहीं लेकिन थोडा बहुत वर्क करेगा. सबसे पहले हम ये जानते है की,

yoast plugin क्या है?

yoast ये एक plugin है. plugin याने एक टूल या सॉफ्टवेर होता है. yoast ये plugin wordpress में SEO के लिए use किया जाता है. ये सभी प्रोफेशनल wordpress यूजर use करते है.

yoast के जरीये हम क्या क्या कर सकते है?

इसमें बहुत से फीचर है जैसे
पोस्ट टाइल , मेटा डिस्क्रिप्शन हर एक पोस्ट पे अपने हिसाब से लगा सकते है.
Focus keyword सेटिंग कर सकते है
keyword density चेक कर सकते है.
parmanlink को भी अपने हिसाब से सेट कर सकते है.
टाइल और मेटा टैग में कितने character use करते है ये भी शो करेगा.
XML sitemap के सेटिंग कर सकते है.
ये और भी बहुत सरे फीचर ऑफर करता है आप yoast की official वेबसाइट पे जाके चेक कर सकते है.
wordpress के लिए और भी कई सारे एसे plugin avaliable है लेकिन ब्लॉगर में हमे ये सेटिंग स्टेप बाय स्टेप करनी पड़ती है.
तो मै आपको कुछ टिप्स बताऊंगा की कैसे हमे yoast के तरह ब्लॉगर पर भी seo फ्रेंडली पोस्ट लिख सकते है ताकि वो गूगल में इंडेक्स हो.




१. Post Title:
जब भी हम पोस्ट टाइल लिखते है तो उस टाइटल पर हमारी काफी traffic depend होती है. seo के लिए टाइटल कैसा होना चाहिए.
गूगल अपने search रिजल्ट में टाइटल में जो 50-६० character होते है उनको ही शो करता है और इससे अगर ज्यादा character हो तो उने igonor कर देता है. इसलिए हमे पोस्ट टाइटल लिखते समय ये ध्यान में रखना है की पोस्ट टाइटल मिनिमम ३५ character और ज्यादा से ज्यादा ६० character ही लिखने है. अगर इससे ज्यादा हम लिखते है तो search engine इससे igonor कर देता है.
wordpress पर तो आप yoast plugin का use करके टाइटल character काउंट कर सकते है. लेकिन ब्लॉगर के लिए कोई एसा टूल avaliable नहीं है.
मैंने कोडिंग के जरिये character काउंटर टूल बनाया है तो मैंने निचे दिया है. आप उसमे अपना टाइटल डाल के character काउंट कर सकते है.


Aapka Title Minimum 35 Character Aur Jyada Se Jyada 60 Character Ka Hona Chahiye!

Your Title Have Minimum 35 Character & Maximum 60 Character Long

Remaining Character (Character Baki Hai)


Designed & Developed By - HindiMeEarn.Com

2. Meta Description:
सबसे पहले तो आपको ब्लॉग में मेटा डिस्क्रिप्शन ऑन करना पड़ता है. मेटा डिस्क्रिप्शन स्टार्ट करने के लिए custom robots.txt को सेट करना पड़ता है.
मेटा disctipiton याने जब हम search engine में कुछ search करते है तो टाइटल के निचे जो शोर्ट डिस्क्रिप्शन होता है उसको मेटा डिस्क्रिप्शन कहते है.
मेटा डिस्क्रिप्शन में हम ज्यादा से ज्यादा १६० character ही ऐड कर सकते है. अगर उससे ज्यादा हमने ऐड किया तो सर्च engine उसको igonor करता है और वहा पे ... थ्री डॉट्स दिखता है.


Meta Description


wordpress पर yoast के सहारे हम मेटा डिस्क्रिप्शन में कितने character है ये हम काउंट कर सकते है. लेकिन ब्लॉगर में एसा नहीं कर सकते है.
मैंने निचे मेटा character काउंटर टूल बनाया है. आप उसमे अपना मेटा कंटेंट डाल के character काउंट कर सकते है. वो १६० character से कम होने चाहिए.


Meta Description Minimum 155 Character Aur Jyada Se Jyada 160 Character Ka Hona Chahiye!

Meta Description Minimum 155 Character & Maximum 160 Character Long

Character Baki Hai


Designed & Developed By - HindiMeEarn.Com

३. Custom Paramalink:
जब भी हम ब्लॉगर में टाइटल ऐड करते है तब उसके लिए आटोमेटिक परमालिंक क्रिएट होती है. लेकिन वो टिक तरह से शो नहीं होती है.


use custom parmalink


Example
Yoast-Like-Plugin-Alternative-For
लेकिन हमे इसे भी एडिट कर सकते है. उसके लिए ब्लॉग पोस्ट लिखने के बाद आप कस्टम परमालिंक ऐड करे.
Example
Yoast-Like-Plugin-Alternative-For-blogger


४.keyword density:
keyword density क्या होती है?
हमारे पोस्ट में एक keyword कितनी बार रिपीट हुआ है उसको keyword density कहा जाता है.  इसका मेज़रमेंट करना थोडा सा मुश्किल है. ये आपके पोस्ट length पर depend करता है.
Example
अगर आपकी पोस्ट 1000 वर्ड की है और आप १ वर्ड को पोस्ट में 10 टाइम्स use करते है तो आपकी keyword density हो होती है, १%.
हमारे पोस्ट में keyword density 2% - ४% हो तो टिक है. अगर इससे ज्यादा होतो गूगल आपकी पोस्ट को स्पैम मनाता है और आपको search engine से traffic नहीं मिलती है.

Density


wordpress पर हम yoast से keyword density चेक कर सकते है लेकिन ब्लॉगर के लिए कोई एसा टूल avaliable नहीं है. लेकिन मैंने निचे एक लिंक दी है us साईट पे जाके आप पोस्ट कंटेंट को पेस्ट करो 


Online Keyword density

अपने पोस्ट के keyword density चेक करे. अगर कोई keyword ४% ज्यादा use हो रहा है तो use पोस्ट से remove कर दे.



5. Interlinking :
अपने ब्लॉग में दूसरी पोस्ट को लिंक में ऐड करे ये page rank के लिए इम्पोर्टेन्ट होता है. पोस्ट में आर्टिकल से रिलेटेड other लिंक ऐड करे. इससे हमारी साईट का बाउंस रेट भी कम हो जायेगा.



6. content length:
जितने भी प्रोफेशनल ब्लॉगर है उन सबका कहना है की पोस्ट की जो length है, वो कम से कम 1000 वर्ड की हो.  वैसे तो कोनसी पोस्ट search engine में इंडेक्स होगी एसा कहा नही जा सकता. लेकिन मिनिमम पोस्ट में ३०० वर्ड होने चाहिए और मैक्सिमम आप अपने हिसाब से तय कर सकते है. कई professional का ये मानना है की 1000-१५०० वर्ड वाली पोस्ट search engine में फर्स्ट थ्री rank में रहती है.


७. Images name & Alt Tag:
ब्लॉगर में हमे इमेजेज को टाइटल और alt टैग प्रोपेर्ली ऐड करना पडता है.  इमेज अपलोड करने से पहले इमेज को रीनेम करे और कंटेंट के हिसाब से name दे.
Example :
greentshotgfff१२३.jpg    worng format
meta-description.jpg     ok format
जब हम इमेज पोस्ट में ऐड करते है तब उसको alt टैग जरुर ऐड करे.




तो इन टिप्स को फॉलो करके हम्म seo फ्रेंडली पोस्ट लिख सकते है. एसा करने से wordpress यूजर जो plugin use करते है उसी की तरह ब्लॉगर इन टिप्स को फॉलो करके उनके जैसे alternative मेथड का use कर सकते है. जिससे हमरी पोस्ट search engine में इंडेक्स हो और हमे आर्गेनिक traffic मिले.

Author:

Professional Bloggger and Author of Hindimeearn.com Completed Master Degree in Computer Science.Passionate about Blogging,Make Money and Web-Designing.Best Knowledge of HTML,PHP,.NET,C,C++ and other programming languages. Know More About Me...

Follow Us :


Related Posts
Previous
« Prev Post