URL In Hindi - यूआरएल क्या है?

URL क्या होता है (What is URL in Hindi)? यूनिफार्म रिसोर्स लोकेटर, यूआरएल का हिंदी में क्या मतलब है, इसके बारे में जानते है.

URL In Hindi - यूआरएल क्या है?

इन्टरनेट का इस्तमाल करते है तो कई बार हमे यूआरएल ये शब्द सुनने को देखने को मिलता है, जो लोग technology से जुड़े है शायद उनको यूआरएल के बारे में पता हो लेकिन कई एसे भी लोग है जिनको इसके बारे में ठीक से पता नहीं है. तो चलिए आज हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताते है.

यूआरएल क्या है ?

URL Meaning In Hindi: Uniform Resource Locator यूनिफार्म रिसोर्स लोकेटर कहा जाता है.
इसका प्रयोग किसी website,webpage को locate करने के लिए किया जाता है.
किसी भी वेबसाइट को मोबाइल, कंप्यूटर के ब्राउज़र में खोलने के लिए हमे उस साईट का यूआरएल पता होना चाहिए.
जैसे अगर आप हमारी साईट को ओपन करना चाहते है तो Browser में आपको
www.hindimeearn.com ये यूआरएल डालना पड़ता है तब हमारी साईट ओपन होती है.

यूआरएल का example:

HTTP / HTTPS ये एक प्रोटोकॉल है, जिसको हाइपरटेक्स्ट ट्रान्सफर प्रोटोकॉल कहा जाता है.
www याने वर्ल्ड वाइड वेब होता है. कभी कभी इसको सबडोमेन कहा जाता है, कई बार बिना www के साईट ओपन नहीं होती है. इसलिए www टाइप करना पड़ता है.

google.com : गूगल को हम डोमेन नाम कहते है और .com को डोमेन extension कहा जाता है. इन्टरनेट पर लाखो साईट है, इसलिए हर एक साईट का अपना एक यूनिक डोमेन नेम होता है.

यूआरएल में ध्यान देने वाली बाते :

एक बात आपने नोटिस की होगी,
यूआरएल में कभी भी space नहीं होता है.
यूआरएल में स्पेशल character जैसे @#$%^& allowed नहीं है.

पेज यूआरएल जैसे

http://www.sitename.com/firstpage.htm
http://www.google.com/firstpage.asp
http://www.google.com/firstpage.php
इन यूआरएल में जो फर्स्ट पेज है उसमे .htm का मतलब है वो वेबपेज html में बनाया गया है.
firstpage.asp इसमें .asp मतलब एक्टिव सर्वर पेजस का इस्तमाल करके वेबसाइट बनायीं है.
firstpage.php इसमें .php का इस्तमाल किया गया है.


यूआरएल काम कैसे करता है ?

वेबसाइट को ओपन करने के लिए एक यूनिक IP एड्रेस का इस्तमाल होता है. लेकिन यूआरएल को इस प्रकार डिजाईन किया है की वो यूजर के ध्यान में रहे.
वेबसाइट को ओपन करते समय DNS की मदद से यूआरएल को IP में बदला जाता है, वो हमारे सामने वेबसाइट ओपन हो जाती है.
मान लीजिए की आपको कोई वेबसाइट ओपन करने के लिए
28.148.728.11
45.789.451.09
अगर एसा IP एड्रेस दिया जाए तो इसको याद रखना आसांन नहीं है इसलिए यूआरएल दिया जाता है.


SHARE THIS

Author:

Completed Master Degree in Computer Science.Passionate about Blogging,Make Money and Web-Designing.Best Knowledge of HTML,PHP,.NET,C,C++ and other programming languages. Know More About Me...

0 comments: