Chori Ya Khoya Hua Mobile Track Kaise Kare, Pata Kaise Lagaye

Chori Ya Khoya Hua Mobile Track Kaise Kare, Pata Kaise Lagaye
Chori, ya khoya hua mobile ka pata kaise lagaye uska location kaise track kare jisse hume uski Jankari mil jaye iske bare me aaj mai aapko bataunga.

Kabhi kabhi humse humare smartphone kahi kho jata hai, ya phir koi wo chori kar leta hai, yese me hum bahut pareshan ho jate hai. To agar yesa ho jate to iske bad kya kare.

Mobile ko track karane ke liye play store par kayi sare third party application hume mil jate hai, lekin inme se kayi apps paid hai yane hume inko purchase karana hoga. Lekin mai aapko free method ke bare me bataunga jisse aap apne khoye hue phone ko track kar sakate hai, aur uska pata laga sakate hai.

Chori Hue Phone ka Pata Kaise Lagaye:

Agar aapke pass android operating system wala smartphone hai to aapko usme ek Android Device Manager ka built in function milata hai. Android device manager ek yesa option hai jisse hum apne mobile ka location pata kar sakate hai, usko manage kar sakate hai.

Step 1:
Sabse pahale apne computer me browser open kare aur usme http://www.google.com/android/devicemanager
Is address ko open kar le.

Step 2:
Open karane ke bad aapko waha par aapke us gmail account se log in karana hoga jo aapne apne mobile me dala tha jo chori hua hai.


Step 3:
Jaisi hi aap log in karoge aapko aapke mobile ka name aur model number show hoga, aur sath me map bhi show hoga jo aap niche dekh sakate hai.

Chori Hue Mobile Ka Pata Kaise Lagaye

Us map par aapko wo dikhayega ki aapka mobile abhi kis location, jagah par hai.
(Lekin us samay aapke mobile par internet connection on hoan jaruri hai.)

Step 4:
Aapke mobile name ke niche aur bhi kuch option aapko dikhayi denge.

a) Ring:
Ye option isliye diya gaya hai, jisse hum apne mobile ko ring de sakate hai.

b) Lock:
Lock option hume isliye diya gaya hai kyon ki hum is option se apne mobile ko lock kar sakate hai. Device ko lock karane ke liye hume usko new password set karana hota hai, usko bad humara jo mobile hai wo lock ho jayega, aur password dalane ke bad hi uska lock screen khulega. Agar aapka mobile kisi ke hath bhi lag jaye to wo usko khol nahi payega.

c) Erase:
For security reason erase option sabse khas hai. Hum apne mobile ka jitana bhi data hai usko ek click me erase yane delete kar sakate hai.

Agar aapke mobile me aapke important document, passwords save hai to erase option ki help se hum usko delete kar sakate hai.

Lekin ye bat dhyan me rakhe ki Lock, erase option ka use karane ke liye hume pahale apne mobile se android device manage ko on karana hota hai. Aur ye kam hum tabhi karana hota jab humare pass wo mobile ho. Agar aapne already ye option activate kar diya hai to aap usko Lock, Erase kar sakate hai.

Android Device Manager ko on karane ke liye mobile ki setting – Security – Device Administration me jake on kar de.

Mobile Chori Hone ke Bad Kya Kare:

Bahut se log mobile chori hone ke bad kuch bhi nahi karate hai wo waise hi usko chod dete hai, lekin ye laparwahi mahangi pad sakati hai.


Sath hi aapke mobile me jo SIM Card hai usko customer care se block karawa de.
To is prakar hum chori ya khoye hue mobile ki location ka pata laga sakate hai.
Read More

Artificial Intelligence क्या है?

Artificial Intelligence क्या है?
इन्टरनेट के इस दौर में कितनी नयी technology दिन ब दिन बडती जा रही है, उसी में से एक है, Artificial Intelligence.

Artificial Intelligence Hindi Me

अर्तिफिसिअल इंटेलिजेंस ये न्यू टॉपिक है, जो हम कॉलेज, में seminar के लिए भी सेलेक्ट कर सकते है. तो चलिए जानते है, की Artificial Intelligence क्या होता है.

आपने कई हॉलीवुड मूवी देखि होंगी जिसमे robot ही खुद सारे काम करते है, हमारी तरह सोचते है, और समय पड़ने पर वो सही निर्णय लेने में तत्पर दिखता है. लेकिन क्या सच में एसा मुमकिन है, तो इसका answer आपको इस पोस्ट को read करने के बाद मिल जायेगा.

Artificial Intelligence क्या है

The science of making intelligence computer machine is called artificial intelligence.”
इसे हम सिंपल भाषा में कहे तो क्रत्रिम मशीन (कृत्रिम बुद्धिमत्ता) जिसमे खुद सोचने की तत्परता हो. Artificial Intelligence ये एक मार्ग है, जिसके जरिए हम सोचने वाले computer, computer कंट्रोल्ड रोबोट, जो हमारी तरह सोचते हो इनको बना सकते है.
Artificial Intelligence का उद्देश ये है की, computer अपने आप तय कर पाए और सही निर्णय ले पाए. उसके लिए computer को प्रोग्राम के जरिए तैयार किया जाता है.
इसका main उद्देश है की एक्सपर्ट सिस्टम बनाना और साथ में मनुष्य की सोचने के शक्ती को मशीन में डालना है.



अर्तिफिसिअल इंटेलिजेंस के एप्लीकेशन :

1. Natural Language Processing:
एसी सिस्टम का निर्माण करना जो हमारी भाषा को समज सके, और हमारी दी गयी स्टेप को फॉलो कर सके.

2. Vision Systems
पोलिस  computer सॉफ्टवेर का use करके आर्टिस्ट ने जो स्केच बनाया होता है, उससे क्रिमिनल का चेहरा पहचान सकते है.

3. Robotics
कम्पनी में कई एसे रोबोट है, जो पेंटिंग, कोटिंग, के लिए use किए जाते है.

Robotics:
रोबोटिक्स ये AI की एक ब्रांच है. जिससे हम इफेक्टिव और, इंटेलीजेंट रोबोट बना सके.
रोबोट को इसलिए बनाया जाता है, की man power को कम किया जाए और वही काम रोबोट से करवाया जाए.
रोबोट की इस तरह डिजाईन और प्रोग्राम किया जाता है, की वो हमारी इंस्ट्रक्शन को फॉलो करे. हमारे जो कमांड है, उनको ही उसे फॉलो करने के लिए प्रोग्राम किया जाता है.



AI के फायदे और नुकसान :

किसी भी चीज़ के दो पहलु होते है. किसी भी चीज़ को देखने के दो नजरिए होते है. उसी प्रकार अर्तिफिसिअल इंटेलिजेंस के बारे में सभी साइंटिस्ट का कहना है, की AI से बहुत काम आसन हो जायेंगे. Man power को कम करना है.

लेकिन कई साइंटिस्ट का कहना है, की अगर मशीन अपने आप सोचने लग जायगी तो ये मनुष्य के लिए घातक हो सकता है, अगर मशीन अपने फैसले खुद लेने लग जाएगी तो इसका नुकसान इंसान को ही होगा.


इस example को हमारे बॉलीवुड मूवी रोबोट जो की रजनीकांत, का है, उसे देखकर समज सकते है.
इस पोस्ट को पढ़कर अब आपको समज आया होगा की आखिर अर्तिफिसिअल इंटेलिजेंस क्या है.
आपके सुजाव और विचार आप कमेंट में दे सकते है.

Computer, Internet, Blogging, Make Money Se रिलेटेड किसी भी प्रॉब्लम का solution पाने के लिए Facebook group जरुर ज्वाइन करे.

Read More

IMEI Number क्या होता है? मोबाइल का IMEI कैसे पता करे

IMEI Number क्या होता है? मोबाइल का IMEI कैसे पता करे

IMEI Number
क्या होता है. अपने Mobile का IMEI number कैसे पता करे इसके बारे में आज हम आपको बताएँगे.

IMEI Number क्या होता है

हम कोई भी मोबाइल क्यों न इस्तमाल करते हो, चाहे वो स्मार्ट फ़ोन हो या फिर सिंपल मोबाइल, इन सबको IMEI नंबर होता है. आई.एम.इ.आई नंबर क्यों दिया जाता है, इसकी क्या जरुरत होती है.

IMEI को International Mobile Equipment Identity कहा जाता है. जैसे हमारा एक यूनिक नाम होता है, जिससे हम पहचाने जाते है उसकी प्रकार हर मोबाइल के लिए IMEI नंबर होता है, जो की यूनिक होता है. IMEI नंबर का इस्तमाल मोबाइल की पहचान के लिए किया जाता है. जिसमे मोबाइल की डिटेल्स जैसे serial number, model की डिटेल्स होती है.

क्यों जरुरी होता है IMEI नंबर :

हम सबके मोबाइल को आई.एम.इ.आई दिया गया होता है. लेकिन कई लोगो को इसके बारे में पता नहीं है. और ना ही उनोने कभी जानने की कोशिश की होगी. क्यों की ज्यादातर लोगो को इसकी क्या जरुरत है यही पता नहीं होता है.

जैसे ऊपर बताया की आई.एम.इ.आई नंबर का इस्तमाल मोबाइल की पहचान करने के लिए होता है. जब आपका मोबाइल कही पर गुम हो जाता है, या फिर चोरी हो जाता है, तो उसको track करने के लिए हमे IMEI Number की जरुरत पड़ती है.

IMEI Number की मदद से हम अपने खोए हुए मोबाइल की location, उसका पता लगा सकते है.
अगर आपका मोबाइल चोरी हो जाए तो आप इसके बारे में पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कर सकते है. जिसमे आपको अपने IMEI नंबर की जानकारी उनको देनी होगी, जिससे वो आपके मोबाइल को ट्रैक कर सके.

Mobile का IMEI Number कैसे पता करे :

तो हमे पहले से ही अपने मोबाइल का IMEI पता करना जरुरी है, मोबाइल का IMEI नंबर कैसे पता किया जाता है, इसके बारे में निचे आपको बताया गया है.

1. USSD Code से:

हम अपने मोबाइल से USSD कोड की मदद से IMEI नंबर पता कर सकते है. उसके लिए अपने मोबाइल के डायल पैड से *#06# dial करे.

अगर आपका मोबाइल सिंगल सिम का है तो आपको एक IMEI दिखाई देगा और डबल सिम वाला है तो दो IMEI शो होगे.
अब इन IMEI नंबर को आप कही पर नोट कर ले. अगर फ्यूचर में हमे इसकी जरुरत पड़े तो हम चेक कर सकते है.

मोबाइल बॉक्स, बिल पे :

अगर आपका मोबाइल चोरी या गुम हो जाए और आपने पहले से IMEI नंबर पता नहीं किया है , तो चिन्ता करने की कोई जरुरत नहीं है.


आपने जब मोबाइल ख़रीदा है, उस समय आपको उसका बिल और साथ में बॉक्स दिया जाता है. उस बॉक्स और मोबाइल के बिल पर भी IMEI नंबर नोट किया गया होता है. आप उससे भी अपने मोबाइल का IMEI नंबर पता कर सकते है.

तो अब आप समज गए होंगे की आखिर आई.एम.इ.आई नंबर क्या होता है और क्यों जरुरी होता है.
आपके सुजाव, सवाल कमेंट में पूछना ना भूले.

Read More

Delete Temporary Files by Using Disk Cleanup Utility in Windows 7, 8

Delete Temporary Files by Using Disk Cleanup Utility in Windows 7, 8
Windows 7, 8 में Temporary files को disk cleanup utility के जरिए delete कैसे किया जाता है, आज हम जानते है.
Windows operating सिस्टम में जो Temporary files होती है, वो junk files होती है. जिसका task कम्पलीट होने के बाद हमारे system में कोई उपयोग नहीं होता है.

Delete Temporary files by disk clean up utility

इसलिए हमे इस फाइल को delete करना पड़ता है. इन फाइल्स को कोई काम न होने से हमारे disk space waste होता है.
windows में इन फाइल्स को delete करने के लिए इनबिल्ट utility दी है, जिसका नाम है, disk clean up utility. इसके जरिए कैसे फाइल्स को delete किया जाता है, आज हम देखते है.


Windows 10, 8, 7 Temporary Files को Delete करने की स्टेप्स:

मै यहाँ पे windows 7 का use कर रहा हु. लेकिन windows 8,10 में भी आपको यही स्टेप को फॉलो करना है.
स्टेप 1:
Start – All Programs – Accessories – System Tool – Disk Clean up इस प्रोसेस को फॉलो करे.
Or
Search Box Disk clean up डाले और Enter प्रेस करे.

स्टेप 2:
अब आपके सामने Disk selection window में C drive सेलेक्ट होगा सिर्फ Ok करे.

Drive select kare

स्टेप 3:
अब disk clean up utility टेम्पररी फाइल्स को स्कैन करेगा. थोड़ी देर तक वेट करे.

Thoda wait kare

स्टेप 4:
अब हमारे सामने एक विंडो ओपन होगी जिसमे सभी तरह की system errors, temporary files, thumbnails, windows errors को सलेक्ट करे और ok पे click करे.

Files select kare

स्टेप 5:
पॉपअप विंडो में फिर से पूछा जायेगा की सुच में फाइल्स को delete करना चाहते है, delete files पर click  करे.

स्टेप 6:
फाइल्स को delete होने में थोडा टाइम लगेगा थोड़ी देर तर वेट करे. अब finally आपको फाइल्स delete हो जाएगी.
यही प्रोसेस हमे windows 8,10 में फॉलो करनी है.

Alternative Method:

हमे disk clean up utility को डायरेक्ट भी एक्सेस कर सकते है. उसके लिए हमे निचे दी गयी स्टेप को फॉलो करना है.

स्टेप 1:
c drive पे जाके right click करे फिर प्रॉपर्टीज पर क्लिक करे. अब आपके सामने निचे की तरह इमेज दिखाई देगी.

C drive pe right click kare

स्टेप 2:
उसमे निचे disk clean up पर click करना है. और ऊपर दी गयी स्टेप 3 से आगे की प्रोसेस को फॉलो करना है.
तो इस प्रकार हम सिंपल disk clean up utility की help से computer में जो junk files, temporary files होती है, उनको रिमूव कर सकते है.
अगर आपको ऊपर दी गयी किस स्टेप में कोई प्रॉब्लम हो तो आप कमेंट में जरुर बताये.
Read More

Mobile Chori होने के बाद Complaint Application

Mobile Chori होने के बाद Complaint Application


Mobile चोरी होने के बाद या गुम जाने पर police में complaint करने के लिए application कैसे लिखे, Mobile Chori ka application Kaise Likhe इसके बारे में हम आज बात करेंगे.

Mobile chori hone ka application

आज हमारे पुरे काम हमारे स्मार्टफ़ोन से ही होते है. अगर आज के ज़माने में एक दिन भी हम से हमारा mobile दूर हो जाए तो हमारा मन नहीं लगता है. जैसे कोई चीज़ हम से छुट गयी है, एसा हमें लगता है.
लेकिन अगर यही mobile कही पर गुम जाए या फिर चोरी हो जाए तो हमे बहुत से problem को फेस करना पड़ता है. मोबाइल चोरी हो जाए तो हम legally भी प्रॉब्लम में पढ़ सकते है. क्यों की अगर हमारा  मोबाइल किसी के गलत हातो में पढ़ जाए तो वो उसका गलत इस्तमाल कर सकता है.

तो इस प्रॉब्लम से बच ने के लिए हमे मोबाइल चोरी, होने पर या गुम हो जाने पर उसकी police कंप्लेंट करनी जरूरी है. और उसके लिए हमे एक एप्लीकेशन लिख कर पुलिस स्टेशन में सबमिट करना पड़ेगा.

Mobile चोरी/गुम होने के बाद Complaint Application

TO,
Office In charge
----------- Police Station,
----------- (Address).

Subject: मोबाइल चोरी की कंप्लेंट / मोबाइल गुम होने की कंप्लेंट

Respected sir,
मेरा नाम ------------- है. 22 April 2017 को कुर्ला रेल्वे स्टेशन, मुंबई (यहाँ पर आप अपना एड्रेस डाले जहा पर आपका मोबाइल चोरी हुआ हो) पर ट्रेन से जब मै ऑफिस जा रहा था तब मेरा मोबाइल चोरी हो गया है.

                            मोबाइल डिटेल्स कुछ इस प्रकार है. Mobile Redmi 3S जो Silver color का है. उसका IMEI नंबर -------- है. उस मोबाइल में दो सिम कार्ड है, Idea – मोबाइल नंबर , Airtel – मोबाइल नंबर है. सिम कार्ड ब्लाक करने के लिए customer केयर से कहा गया है. मेरे मोबाइल की कीमत कुछ लगभग रु.9000 है.

प्लीज मेरी कंप्लेंट दर्ज करावा ले और उसकी attested कॉपी मुझे दे दे. मेरी आपसे रिक्वेस्ट है की जल्द से जल्द मोबाइल को ट्रैक करके उसको ढूधने की कोशिस करे.

Your faithfully,
xyz,
full address,
signature ,
mobile number( Home )

ऊपर दिए हुए एप्लीकेशन में आपको कुछ बदलाव करने होंगे.

आपको अपना पूरा नाम पता उसमे देना होगा. आपका मोबाइल किस जगह चोरी या गुम हो गया है, उसका लोकेशन उसमे लिखना है.

और इम्पोर्टेन्ट बात आपको उसमे IMEI Number और मोबाइल की डिटेल्स उसमे देनी है.
इतना करने के बाद आप उस एप्लीकेशन को पुलिस स्टेशन में सबमिट कर दे. और उसकी एक कार्बन कॉपी अपने पास ले. ताकि फ्यूचर में हमे किसी प्रॉब्लम को फेस न करना पड़े.

Read More