20/07/2017

रक्षाबंधन कब है 2018? रक्षाबंधन कैसे मनाया जाता है ?



रक्षाबंधन कब है 2018, रक्षाबंधन 2018 date, रक्षाबंधन फोटो, कब मनाया जाता है ? क्यों मनाया जाता है ? तो चलिए जानते है की 2018 में रक्षाबंधन की डेट क्या है. इन सब सवालो के जवाब हम आपको बताने वाले है.

रक्षाबंधन कब है

हिंदु धर्म में रक्षा बंधन के त्यौहार का बहुत महत्र्व है. रक्षा बंधन के दिन बेहन अपने भाई को कलाई पर राखी बाधती है. भाई को मिठाई खिलाती है. भाई इस त्यौहार पर अपनी बेहन के लिए अनोखा तौफा देता है.


रक्षाबंधन कब मनाया जाता है ?

रक्षाबंधन हर वर्ष श्रावण माह की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. इस दिन राखी का बहुत बढ़ा महत्र्व होता है.
राखी एक सूत के धागे से बनी होती है. लेकिन आज मार्केट में राखी बहुत प्रकार की देखने को मिलती है. राखी चांदी की भी होती है, रंगीन, चमचमाती, अलग अलग डिजाईन से बनाई जाती है.

रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है?

रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है, वैसे तो इसके बारे में सही से किसी को पता नहीं है. इसके पीछे बहुत सी कहानिया है.

कहानी :

कहा जाता है की, देव और दानवो में युद्ध छिड गया था और उसमे दानव, देवो पर हावी होते नज़र आ रहे थे. तभी भगवान इंद्र, ब्रहस्पती के पास गए और अपनी व्यथा सुनाई, तभी इंद्रा की पत्नी ये सभ सुन रही थी. 


तभी उसने के रेशम का धागा मंत्रो से पवित्र कर के अपने पति के हात में बांध दिया. और उस दिन पूर्णिमा थी.
तभी इंद्रा देव वो युद्ध जित गए. तभी से विजय के रूप में राखी बाधने की परंम्परा सुरु हुई एसा माना जाता है.

रक्षाबंधन कैसे मनाया जाता है:

रक्षाबंधन के दिन बेहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांधती है. और अपने भाई के लम्बे आयु के लिए प्राथना करती है. उसको मिठाई खिलाती है.
भाई भी अपने बेहन की जीवनभर रक्षा करने का वचन देता है. उस दिन भाई , अपनी बेहन को तौफा देता है.

2017 में रक्षाबंधन कब है?

इस इयर याने 2017 को 7 अगस्त को रक्षाबंधन है. रक्षाबंधन बढे धूम धाम से मनाया जाता है.
तो इस प्रकार ए रक्षाबंधन नाम का त्यौहार मनाया जाता है. अगर आपको हमारी ए पोस्ट पसंद आए तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.


Author:

Completed Master Degree in Computer Science.Passionate about Blogging,Make Money and Web-Designing.Best Knowledge of HTML,PHP,.NET,C,C++ and other programming languages. Know More About Me...

0 comments: