मोबाइल बैंकिंग क्या है – What is Mobile Banking

मोबाइल बैंकिंग क्या है, sbi मोबाइल बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग कैसे करे? इन जैसे कई सवाल आपने भी मन में होंगे. आज के इस कैशलेस दुनिया में हमे अपने transaction पुरे करने के लिए बैंक अकाउंट और मोबाइल बैंकिंग या इन्टरनेट बैंकिंग जरुरी है.

मोबाइल बैंकिंग क्या है – What is Mobile Banking



आज के इस लेख में हम जानते है की मोबाइल बैंकिंग क्या है? इसे इस्तमाल करने के क्या फायदे है.
हर बैंक अपने यूजर के लिए मोबाइल बैंकिंग की सुविधा देती है. चाहे वो SBI, HDFC, SBH, PNB, ICICI, Bank of Maharashtra, लेकिन पहले हमे मोबाइल बैंकिंग शुरु करनी पड़ती है.

मोबाइल बैंकिंग क्या है?

मोबाइल बैंकिंग याने हम अपने मोबाइल के जरिए हमारा पूरा बैंक अकाउंट ऑपरेट कर सकते है. इसके जरिए हम जब चाहे जिसे चाहे पैसे भेज सकते है.
अपने बैंक अकाउंट का बैलेंस चेक कर सकते है.


मोबाइल बैंकिंग के फायदे:
अब हमे ये भी पता होना जरुरी है की आखिर मोबाइल बैंकिंग क्यों जरुरी है. इसकी क्या जरुरत है.
चलिए इसके फायदे जानते है.

1. अपना बैंक अकाउंट अपने मोबाइल में जब चाहे जहा चाहे इस्तमाल कर सकते है.

2. 24*7 hours इसका इस्तमाल कर सकते है.
मोबाइल बैंकिंग के  बहुत फायदे है मान लीजिए हमे अपने रिश्तेदार को पैसे भेजने है और वो बहुत जरुरी है लेकिन उस दिन बैंक बंद है, बैंक की छुट्टी है तो एसे में हम मोबाइल बैंकिंग का इस्तमाल करके उसको पैसे भेज सकते है.


3. अकाउंट का बैलेंस चेक कर सकते है.

4. Fund transfer जैसे NEFT, RTGS, IMPS कर सकते है.

ये भी पढ़े:

5. बिल पेमेंट कर सकते है.

6. मोबाइल रिचार्ज, ऑनलाइन शौपिंग कर सकते है.


7. फिक्स्ड ड़ेपोसित, चेक बुक के लिए रिक्वेस्ट कर सकते है.

मोबाइल बैंकिंग कैसे activate की जाती है:
अगर आप मोबाइल बैंकिंग शुरू करना चाहते है तो आपको निचे दी गयी स्टेप फॉलो करनी होगी.
ये स्टेप हम शोर्ट में दे रहे है, आपको इसके बारे में हम अगले लेख में बताएँगे.

मोबाइल बैंकिंग शुरू करने के अपने अपने बैंक के अलग अलग तरीके है. निचे दी गयी स्टेप स्टेट बैंक मोबाइल बैंकिंग के लिए है.
1. अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से sms सेंड करना होता है.
वो मेसेज आपको आपकी बैंक की वेबसाइट पर मिलेगा.
2. उसके बाद आपको मोबाइल पे User ID और MPIN आएगा.
3. गूगल प्ले स्टोर से आपके बैंक का मोबाइल बैंकिंग app डाउनलोड करे और इनस्टॉल करे.
4. अब रजिस्टर आप्शन पर क्लिक करे.  अब जो User ID और MPIN मेसेज में मिला था उसके जरिए new PIN सेट कर ले.


5. SMS के जरिए GPRS सर्विस एक्टिवेट कर ले.
6. बैंक के ATM में जाकर वहा से रजिस्ट्रेशन कम्पलीट कर ले.

तो अब आप समज गए होंगे की मोबाइल बैंकिंग क्या होती है, इससे इस्तमाल करके के क्या फायदे है.
बैंकिंग से जुड़े और भी लेख आप हमारी वेबसाइट से पढ़ सकते है. जो आपको कैशलेस transaction करने के लिए मददगार साबित होंगे.

आपके मन में कोई सवाल हो तो आप कमेंट के जरिए हम से पुछ सकते है.

Author:

Professional Bloggger and Author of Hindimeearn.com Completed Master Degree in Computer Science.Passionate about Blogging,Make Money and Web-Designing.Best Knowledge of HTML,PHP,.NET,C,C++ and other programming languages. Know More About Me...

Follow Us :


Related Posts
Previous
« Prev Post

2 comments

December 27, 2016 8:50 pm

Mai customer care me BHI baat Kiya muje jo tarika bataya gaya usi tarah kiya lekin nahi hai customer care wale Home branch me sampark karne ke liye bol rahe Mera a/c sbi bank me hai sir ab bataye ki mai karu sir

Reply
avatar
December 27, 2016 8:55 pm

@ Vinod,

Agar itna karane ke bad bhi aapki problem nahi solve ho rahi hai to aap SBI Internet banking try kijiye. Kyon ki SBI Mobile Banking ke bare me jald hi dusari post details me batane wala hu.

Reply
avatar