विज्ञान में 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद क्या करे - Courses after Passing 12th Science


12th Pass Karane Ke Baad Kya Kare, 12वीं के बाद करियर, 12वीं साइंस स्टूडेंट के लिए आगे क्या करियर के अवसर है इसके बारे में आज हम चर्चा करने वाले है.

12वीं साइंस स्टूडेंट के लिए आगे क्या करियर के अवसर

12th पास करने के बाद बहुत से स्टूडेंट इंजिनियर या फिर डॉक्टर इन दोनों फील्ड में ही अपना करियर बनाने के बारे में सोचते है. क्यों की कई स्टूडेंट एसे होते है, जिनको पूरी तरह से पता नहीं होता है की आगे हमारे सामने करियर के क्या क्या आप्शन मौजूद है.

जो लोग 12वी विज्ञान से उत्तीर्ण है, उनके लिए क्या क्या अवसर है इसके बारे में हम चर्चा करने वाले है.
12वी विज्ञान के स्टूडेंट के PCB ग्रुप याने फिजिक्स, केमिस्ट्री, और बायोलॉजी ये विषय होते है. तो वही PCM ग्रुप याने फिजिक्स, केमिस्ट्री, और मैथमेटिक्स सब्जेक्ट होते है. जिन लोगो का पीसीएम ग्रुप है वो स्टूडेंट बी.इ. या फिर बी.टेक इन कोर्स का चुनाव आम तौर पर करते है.

वैसे तो अपना करियर हमे खुद का चुनना पड़ता है. हमे खुद को पता होता है की हम क्या कर सकते है और क्या नहीं. किसी के कहने पर या घरवालो के दबाव में आकर करियर का चुनाव ना करे, क्यों की आगे चल के इससे आपको और आपके घरवालो दोनों को परेशानी होती है.

इसलिए कोर्स चुनते समय पहले स्वयं को परख ले और फिर कोर्स का चुनाव करे. तो चलिए पीसीबी ग्रुप वाले स्टूडेंट के लिए क्या विकल्प है ये हम जानते है.

Courses after Passing 12th Science

MBBS (Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery):

पीसीबी ग्रुप होने की वजह से सबका पहला आप्शन होता है, डॉक्टर बनने का याने MBBS (Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery) डिग्री हासिल करने का. लेकिन MBBS के लिए अच्छे परसेंटेज के साथ एंट्रेंस एग्जाम में भी अच्छे अंक होने जरुरी है.
MBBS और BDS के लिए NEET याने National Eligibility Cum Entrance Test है जो सीबीएसई बोर्ड द्वारा ली जाती है , वो देनी पडती है.

MBBS और BDS के लिए और भी एंट्रेंस एग्जाम जैसे AIIMS, JIPMER मौजूद है. इसमें नेशनल और यूनिवर्सिटी लेवल की एंट्रेंस भी होती है.
MBBS कोर्स 5.5 साल का है, (4.5 एकेडमिक कोर्स + 1 साल internship जो कंपल्सरी है ).

Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery (BAMS)
BAMS ये एक ग्रेजुएट डिग्री है. जिसका duration 5.5 साल का है. जिसमे 4.5 साल का एकेडेमिक कोर्स + 1 साल internship होती है.
BAMS के लिए भी स्टेट लेवल की एंट्रेंस एग्जाम होती है, वो देनी जरुरी है.

(Bachelor of Homeopathic Medicine and Surgery) BHMS
इस कोर्स में homeopathy medical studies होती है. जिसका duration 5.5 साल का है. जिसमे 4.5 साल का एकेडेमिक कोर्स + 1 साल internship होती है.

B Pharmacy
B Pharmacy 4 इयर का डिग्री कोर्स है. इसके लिए हमे स्टेट लेवल एंट्रेंस एग्जाम देनी होती है. B Pharmacy के बाद स्टूडेंट Pharmacists का जॉब कर सकते है. साथ ही मेडिसिन इंडस्ट्री जहा मेडिसिन बनती है, वहा पर भी जॉब कर सकते है.

D Pharmacy
D Pharmacy 2 साल का कोर्स है. D Pharmacy कोर्स पूरा करने के बाद हमे मेडिकल का लाइसेंस मिल जाता है. जिससे हम मेडिकल शॉप खोल सकते है.

Bachelor of Veterinary Science & Animal Husbandry (B.VSc AH)
अगर आपको एनिमल याने जानवरों से प्यार है तो आपके लिए ये अच्छा कोर्स है. B.VSc AH कोर्स पूरा करने के बाद एनिमल का डॉक्टर बन सकते है. ये 5 साल का कोर्स है.

B.Sc. Nursing
Bachelor of Science in nursing अंडर ग्रेजुएट कोर्स है. इसका duration 4 साल का है.
इसको पूरा करने के बाद सरकारी अस्पताल या फिर प्राइवेट अस्पताल में नर्स का जॉब मिल सकता है.
इस कोर्स की फीस 15k-30k के बिच में हो सकती है.

BMLT (Medical Lab Technology)
BMLT 3 साल का अंडर ग्रेजुएट कोर्स है. BMLT को पूरा करने के बाद Lab Medicine Technician, X-Ray Technician, Laboratory Technician, System Analyst, Laboratory Technician, etc. की जॉब हम कर सकते है.

B.sc (General):
बी.एस.सी. जनरल जिन लोगो को ऊपर दिए गए कोर्स के लिए एडमिशन नहीं मिल रहा है या वो ऊपर दिए कोर्स नहीं करना चाहते है तो वो जनरल बी.एस.सी. कर सकते है. जो 3 साल का अंडर ग्रेजुएट कोर्स है.

GNM
GNM याने General Nursing and Midwifery ए एक नर्सिंग कोर्स है. GNM 3.5 साल का कोर्स है. इस कोर्स को पुरा करने पर अस्पताल में नर्स की जॉब मिल जाती है.

Diploma/Courses after Passing 12th Science

इसके अलावा भी कई कोर्स मौजूद है.

B.sc (IT)/ BCA/ B.sc (C.S)
ये 3 कोर्स अंडर ग्रेजुएट कोर्स है. तीनो कोर्स आईटी फील्ड से जुड़े है. अगर आपको कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में इंटरेस्ट है तो आप इन में से कोई भी एक कोर्स चुन सकते है.


B.Tech:
बैचलर ऑफ़ टेक्नोलॉजी ये चार साल का कोर्स है. ए भी आईटी से जुडा कोर्स है. लेकिन बी.टेक कोर्स
की वैल्यू पहले के मुकाबले बहुत कम हो गयी है. इसके बजाय BCA अच्छा आप्शन है.

पॉलिटेक्निक:
पॉलिटेक्निक भी एक अच्छा आप्शन है. अगर आपको इसका गवर्नमेंट कॉलेज मिल जाता है, तो बहुत कम फीस में आपका डिप्लोमा पूरा हो जाता है.

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल और जवाब:

1.B.M.L.T के बाद क्या हमे pathology का लाइसेंस मिल सकता है?
जी हा. आप अपनी खुद की पैथोलॉजी लैब शुरू कर सकते है. लेकिन इससे पहले आपके पास अनुभव होंन जरूरी है. इसलिए एक दो साल किसी हॉस्पिटल में अनुभवं ले और फिर अपनी खुद की लैब शुरू करे.

2. क्या हम एक साथ २ कोर्स कर सकते है?
नहीं एक साथ एक ही कोर्स संभव है.


इसके अलावा कोई सवाल हो तो कमेंट में जरुर बताए.

Author:

Professional Bloggger and Author of Hindimeearn.com Completed Master Degree in Computer Science.Passionate about Blogging,Make Money and Web-Designing.Best Knowledge of HTML,PHP,.NET,C,C++ and other programming languages. Know More About Me...

Follow Us :


Related Posts
Previous
« Prev Post