17/10/2017

WhatsAap के मालिक के बारे में जानकारी


हेल्लो दोस्तों आज हर कोई whatsapp का इस्तमाल करता है | आज whatsapp के करोडो यूजर है | लेकिन क्या आप जानते है की whatsapp किसने बनाया ? whatsapp बनाने के लिए किन किन लोगो का योगदान है, तो चलिए आज हम इसी के बारे में जानते है |

WhatsAap के मालिक के बारे में जानकारी

Whatsaap ki history Aur Founder ke bare me?

whatsapp की शुरवात 2009 में हुई थी | और आज whatsapp आप के करोडो यूजर है | लेकिन whatsapp बनाने वाले जो लोग है, उनकी कहानी बहुत ही इंटरेस्टिंग है | whatsapp बनाने में 2 लोगो का बहुत ही बड़ा योगदान रहा है |





    1.     Jan Koum
    2.    Brian Acton

तो चलिए एक –एक कर के इन दोनों के बारे में जानते है |

1.Jan Koum:

जन कौम एक American internet programmer है | जान कौम सीईओ और co-founder थे whatsapp के | कौम बहुत ही गरीब खानदान से थे कभी कभी उन्हें खाने के लिए अपनी माँ के साथ जहा पर मुफ्त भोजन मिलता है , उस लाइन में खड़ा रहना पड़ता था | उनकी माँ साफसफाई का काम करती थी |

18 साल की उम्र से ही उन्हें प्रोग्रामिंग में इंटरेस्ट था | उनका ग्रेजुएशन San Jose State University में हुआ |



1997 में कौम में याहू के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर इंजिनियर का काम किया | कुछ ही समय बाद वो ब्रायन ऐक्टन से मिले जब वो काम कर रहे Ernst & Young के लिए security tester का | आगे 9 साल तक उन दोनों ने एक साथ काम किया | 2007 में उनोने याहू का काम छोड़ दिया | 

दोनों ने फेसबुक में जॉब के लिए अप्लाई किया लेकिन उने रिजेक्ट कर दिया गया |

24 February   2009 को whatsapp inc. नाम की कंपनी California में खोल ली | कुछ ही महीनो में whatsapp बेहत पोपुलर हो गया |


Also Read:



    2.Brian Acton :

     ब्रायन ऐक्टन कैलफोर्निया का रहने वाले है | और वो Co-founder है whatsapp के | ब्रायन का ग्रेजुएशन कंप्यूटर साइंस में Stanford university में 1994 में पूरा हुआ |

1998 में ऐक्टन ने याहू के लिए infrastructure engineer का काम किया | dotcom के बिज़नस में ऐक्टन को कई करोडो रुपयों का नुकसान हुआ | वो करोडो रुपये हार गए उस बिज़नस में | Jab Ernst & Young के लिए सिक्यूरिटी टेस्टर का काम कर रहे थे तब उनकी मुलाक़ात कौम से हुई |

कौम और ऐक्टन दोनों ने फेसबुक में जॉब के लिए अप्लाई किया लेकिन उन्हें वहा पे रिजेक्ट कर दिया फिर दोनों ने whatsapp बना लिया और कुछ ही months में whatsapp इतना पोपुलर हो गया की Mark Zuckerberg ( Facebook ke founder ) का ध्यान उनकी तरफ गया |




और  $19 Billon Dollars को फेसबुक के ओनर Mark Zuckerberg ने whatsapp खरीद लिया |

आज कौम और ऐक्टन दोनों अरबपति है |

दोस्तों हमे ए ध्यान में रखना है की कितनी भी परेशानी आए कोई भी दिक्कत हो लेकिन हमे हार नहीं माननी चाहिए |

अगर इन दोनों ने फेसबुक में जॉब रिजेक्शन करने के बाद निराश हो जाते आगे कुछ भी ना करते तो आज उनकी हालात कुछ और होते |

लेकिन उन्हें खुद पे भरोसा था जिस कंपनी में वो जॉब मांगने गए (फेसबुक) उसी कंपनी को आखिर उनके पास आना पड़ा |

“Agar man me lagan aur kuch karni ka junun ho to kuch bhi namumkin nahi.”

“Apne under ke honor ko pahchankar usi ko pura karne me lag jaye.”



“अगर मान में लगन और कुछ करने का जूनून हो तो कुछ भी नामुमकिन नहीं “|
“अपने अन्दर के हुनर को पहचानकर उसी को पूरा करने में लग जाए “|


Author:

Completed Master Degree in Computer Science.Passionate about Blogging,Make Money and Web-Designing.Best Knowledge of HTML,PHP,.NET,C,C++ and other programming languages. Know More About Me...

0 comments: