05/02/2018

O Level Course की जानकारी – Fees, Syllabus


O Level Course Kya Hai, o level syllabus in hindi. ओ लेवल कोर्स के बारे में पूरी जानकारी.

O Level Course Kya Hai

आपमें से कई लोग कंप्यूटर फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते होंगे. कई लोगो ने O Level Course के बारे में सुना होगा. कई स्टूडेंट इस कोर्स करने के बारे में सोच रहे होंगे. लेकिन ओ लेवल कोर्स क्या है? o level syllabus क्या होता है? इसके बारे में उनको सही से पता नहीं है.
इसलिए आज हम इस आर्टिकल में O Level Course के बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले है.
किसी भी कोर्स को करने से पहले हम उसकी पूरी जानकारी प्राप्त कर लेते है. जैसे कोर्स क्या है? कोर्स की फीस कितनी होगी? यह कोर्स पूरा करने के बाद हमे क्या बेनिफिट मिलेगा?

तो आज हम क्या क्या जानने वाले है , O level course kya hai, O level syllabus in hindi, O level course details in Hindi.

O Level Course क्या है?

ओ लेवल कोर्स को National Institute of Electronics & Information Technology-राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (NIEIT) द्वारा संचलित किया जाता है.
O Level Course का पूरा नाम DOEACC ‘O’ Level (Foundation course in Computer Application) है.

O Level Course की Certificate Awarding Body: NIELIT (formerly DOEACC Society) है.
National Institute of Electronics & Information Technology (NIEIT) द्वारा और भी कई सारे कोर्स कंडक्ट किए जाते है, जैसे CCC, BCC, DCAN, A Level.



ओ लेवल कोर्स DOEACC सोसाइटी का इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का एक कोर्स है. इस कोर्स का duration 1 साल का है, जिसमे 2 सेमेस्टर होते है.
ओ लेवल कोर्स को पूरा करने के बाद नेक्स्ट लेवल का जो कोर्स है वो है A LEVEL. जिसको कंप्यूटर का advanced डिप्लोमा के बराबर माना जाता है.

ओ लेवल कोर्स करने का फायदा ये है, की कंप्यूटर फिल्ड का नॉलेज प्राप्त होता है. साथ में जितनी भी गवर्नमेंट एग्जाम में कंप्यूटर डिप्लोमा, कोर्स की जरुरत होती है, वहां पर हम ओ लेवल कोर्स का इस्तमाल कर सकते है.

Eligibility & Duration for O level Course:
ओ लेवल कोर्स को करने के लिए स्टूडेंट के पास क्या क्राइटेरिया होना जरूरी है, जानते है.
Eligibility: 10+2 Passed or After 10th ITI Certificate passed of 1 year
Duration: 1 Year (with 2 semester, one semester is of 6 months)

 O level Syllabus In Hindi

तो चलिए अब बात करते है, सिलेबस के बारे की ओ लेवल कोर्स में हमे कोनसा सिलेबस है. इस कोर्स में theory के साथ प्रैक्टिकल वर्क भी दिया जाता है.

Paper code                                       Paper Name
Semester-I
M1-R4                                      IT Tools and business system
M2-R4                                     Internet technology & Web design
Semester-I I
M3-R4               Programming and Problem Solving through ‘C’ language
M4.1-R4             Application of .NET Technology
M4.2-R4             Introduction to Multimedia

# A10.1R4 & A10.2R4 इसमें से एक ऑप्शनल पेपर चुनना है.

Practical Papers & Project
PR-1              Practical based on the theory papers of the syllabus
PJ                  Project Work      

M1-R4 IT Tools and business system:
इसमें हमे सभी बेसिक जानकारी पढाई जाती है. जैसे कंप्यूटर इंट्रोडक्शन, Ms office (एक्सेल, पॉवर पॉइंट, एक्सेस), Computer Fundamental (Input, output devices, hardware devices etc).

M2-R4 Internet technology & Web design:
इस विषय में हमे इन्टरनेट से जुडी और वेब डिजाईन से जुडी जानकारी सिखाई जाती है. जैसे HTML, CSS आदि.

M3-R4 Programming and Problem Solving through ‘C’ language
C प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में इसमें पढ़ाया जायेगा. साथ ही C प्रोग्रामिंग में अलग अलग प्रोग्राम भी सिखाई जायेंगे.

M4.1-R4      Application of .NET Technology
.नेट एक फ्रेमवर्क है, जहा पर हम ASP.NET, C#.NET, VB.NET जैसी कई प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिख सकते है.

M4.2-R4     Introduction to Multimedia
मल्टीमीडिया जिसमे ऑडियो, विडियो, ग्राफ़िक्स से रिलेटेड पढाया जाता है.

O Level Examination Details:

Theory Details:
ओ लेवल एग्जामिनेशन हर साल 2 बार ली जाती है. हर साल जनवरी और जुलाई में theory एग्जाम ली जाती है. इसके सेण्टर आल ओवर इंडिया में होते है. theory एग्जाम कुल 100 मार्क्स की होती है.
Theory का पेपर 3 hours का होता है.


Practical Examination:
प्रैक्टिकल एग्जाम इंस्टीट्यूट में DOEACC के देख रेख ली जाती है. प्रैक्टिकल एग्जाम का भी duration 3 हौर्स का होता है.

एग्जाम रिजल्ट :
DOEACC ‘O’ Level examinationn का रिजल्ट DOEACC website http://www.doeacc.edu.in पर पब्लिश किया जाता है. एग्जाम होने के बाद 2 महीने के अंदर इस एग्जाम का रिजल्ट पब्लिश किया जाता जाता है.

स्टूडेंट वेबसाइट पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते है, और डाउनलोड कर सकते है. साथ में अपने institue में भी अपना रिजल्ट पता कर सकते है.
एग्जाम का रिजल्ट ग्रेड सिस्टम के तौर पर दिखाया जाता है. ग्रेड सिस्टम कुछ इस तरह है.

Marks Scored       Grade to be awarded
Below 50%            F (Failed)
50% - 54%              D
55% - 64%              C
65% - 74%              B
75% - 84%              A
85% & above        S

एग्जाम फीस :
Examination fee for each theory paper is Rs. 500/- and cost of exam form is Rs. 25/. हर एक theory पेपर के लिए 500 रूपए और एग्जाम फॉर्म के लिए रूपए 25 फीस है.
Practical examination fee of Rs.300- प्रैक्टिकल एग्जाम के लिए 300 रुपय फीस है.

O लेवल कोर्स पूरा करने पर जॉब के चांस :
ओ लेवल का कोर्स पूरा करने के बाद आपको निचे की तरह जॉब मिल सकती है.
Programmer Assistant
Junior Programmer
Computer Operator
IT Lab Assistant
Teaching Assistant



O Level Course Ke Liye Apply Kaise Kare:
ओ लेवल कोर्स के लिए हम डायरेक्ट ऑनलाइन अप्लाई कर सकते है. या फिर किसी institue के जरिए ओ लेवल कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते है.
http://student.nielit.gov.in/
ऑनलाइन यहाँ से अप्लाई कर सकते है.  O level course application कैसे करते है, फॉर्म कैसे फिल किया जाता है, इसके बारे में आने वाले समय में हम आपको बताएँगे.

रिलेटेड आर्टिकल :

पोस्ट से जुडा सवाल हो तो निचे कमेंट में हम से पूछ सकते है. आपका कोई सुजाव हो तो वो भी हमसे शेयर करे.



Author:

Completed Master Degree in Computer Science.Passionate about Blogging,Make Money and Web-Designing.Best Knowledge of HTML,PHP,.NET,C,C++ and other programming languages. Know More About Me...

0 comments: